Ramadan Tips: जानें, खजूर से रोज़ा खोलना क्यों है फ़ायदेमंद

खजूर को शक्कर और विटामिन का एक बड़ा स्रोत माना जाता है, इसलिए यह रमज़ान के दौरान ख़ास तौर से फ़ायदेमंद होते हैं.

Ramadan Tips: अगर आपको भी हैं ये शिकायत, तो रमज़ान में...

व्रत, उपवास या रोज़ा रखते समय यह बात हमेशा ध्यान रखनी चाहिए कि लंबे समय या ग़लत तरीके से किए जाने वाले व्रत (यानि फास्टिंग) की वजह से डायबिटीज़ जैसी लंबी बीमारी से जूझ रहे मरीज़ों को बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है

रमज़ान और डायबिटीज़- ज़रूरी है कि आपको हो इससे जुड़ी हर...

रमज़ान में खानपान और दवाओं के रूटीन में आए बदलाव की वजह से हाई ब्लड शुगर का ख़तरा होता है.
Gluten

ग्लूटेन सेंसिटिविटी क्या होती है?

ग्लूटेन एक प्रोटीन है, जो गेहूं, राई और जौ में पाया जाता है. लेकिन सवाल ये है की ग्लूटेन करता क्या है? एक पैकेट गेहूं के आटे में आप जब भी पानी मिलाते हैं, तो ये लिसलिसा हो कर एक डो जैसा बन जाता है. ऐसा ग्लूटेन की वजह से होता है.
Diabetes and Alzheimer's

बात-बात पर चिढ़ने या भूलने की शिकायत हो रही है, तो...

T2DM के लिए अल्जाइमर डिज़ीज़ और अल्जाइमर डिज़ीज़ के लिए T2DM एक जोख़िम भरा कारक है क्योंकि डेटा के मुताबिक़ ये बीमारी कई लेवल पर जुड़ी हुई हैं. हाल की स्टडी में सामने आया है कि दोनों डिसऑर्डर में सामान्य पैथोजेनिक मेकेनिज्म का इस्तेमाल किया जाता है.

Healthy Tips: जानें कैसा होना चाहिए रमज़ान में आपका खानपान

रमज़ान का महीना ईश्वर की इबादत,शुक्रिया अदा करने और लोगों पर दया करने के अलावा अपनों के साथ भोजन साझा करने का भी होता है. क्या आप जानते हैं कि इस दौरान आपको अपने भोजन में कौन सी चीज़ें शामिल करनी चाहिए? जानने के लिए पढ़ें हमारा यह लेख:

जानें डायबिटिक न्यूरोपैथी के लक्षण और बचाव के तरीक़े

जानें क्या है डायबिटिक न्यूरोपैथी और कैसे करें इसकी देखभाल
portion-control-plate

डायबिटीज़ पर नियंत्रण चाहते हैं तो पहले अपनी प्लेट के पोर्शन...

ये इन्डेक्स ख़ून में शक्कर की मात्रा के स्राव की दर बतलाता है.
diabetes diet balanced meal

जानें, डायबिटीज़ है तो आपकी बैलेंस्ड प्लेट में क्या कुछ शामिल...

संतुलित आहार का संबंध परोसी गई थाली में मौजूद माइक्रोन्यूट्रेंट्स के अनुपात से है.

Ramadan Healthy Diet: इस तरह बनाएं अपनी सेहरी को सेहतमंद

माहे रमज़ान में सेहरी की अपनी बहुत ज़्यादा अहमियत होती है. इस महीने में सूरज निकलने से पहले भोर में किए जाने वाले नाश्ते को सेहरी या सुहूर कहते हैं. दिन भर बिना खाए पिए रहने के लिए सेहरी में ऐसी चीज़ें खानी बहुत ज़रूरी होती है जिससे आपको दिन भर एनर्जी मिलती रहे. लिहाज़ा, सेहरी की बात आने पर आपको हमेशा सेहतमंद चीज़े खाने के लिए चुननी चाहिए.