Cinnamon for diabetes
Reading Time: 4 minutes

दालचीनी जिसे अंग्रेज़ी में सिनमन कहते हैं, अमूमन भारत के ज़्यादातर रसोई घरों में पायी जाती है. परंपरागत रूप से, इसे खाने के स्वाद को बढ़ाने और पाचन को मज़बूत करने के लिए उपयोग में लाया जाता रहा है. 1990 में पहली बार हुए एक अध्ययन में ये बात सामने आई कि इस मसाले से डायबिटीज़ (मधुमेह) से प्रभावित लोगों को लाभ हो सकता है, क्योंकि दालचीनी में इंसुलिन की दक्षता बढ़ाने की क्षमता देखी गई, यानी कि इंसुलिन रक्त से ग्लूकोज़ को कोशिकाओं में ले जाने में ज़्यादा दक्ष हो जाता है.(1)

मधुमेह को नियंत्रित करने में कैसिया और सिलोन दालचीनी में से कौन है बेहतर?
अगर आप दालचीनी का उपयोग करना चाहते हैं तो सुनिश्चित करें कि आप सिलोन दालचीनी का इस्तेमाल कर रहे हों, न कि सस्ती कैसिया दालचीनी का. सिलोन दालचीनी
थोड़ी महंगी होती है. कैसिया दालचीनी भारत में मसालों की दुकानों में आसानी से मिल जाती है. सिलोन दालचीनी के मुक़ाबले  कैसिया दालचीनी में बड़ी मात्रा में कॉमरिन पाया जाता है, अध्ययन  में पाया गया है कि कॉमरिन के ज़्यादा सेवन से लिवर (यकृत) को  नुक़सान हो सकता है. (2), (3)

वीडियो देखें और जानें काम की बात: क्या डायबिटीज़ में शक्कर खा सकते हैं?

इस बात का अंदाजा लगाना काफ़ी मुश्किल है कि दालचीनी का जो पाउडर आप ख़रीद रहे हैं वो किस क़िस्म का है, ऐसे में ये बेहतर होगा कि आप दालचीनी की स्टिक्स (छाल) ख़रीदें और घर पर उसका पाउडर बना लें.

सिलोन दालचीनी की छाल पतली होती है, जबकि कैसिया दालचीनी सिलोन दालचीनी के मुक़ाबले मोटी छाल लिए होती है.(2)

मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए दालचीनी का उपयोग कैसे करें?

dachini cinnamon for diabetes
Cassia cinnamon (left) and Ceylon or “true” cinnamon (right)

आप ख़ुराक के तौर पर दालचीनी पाउडर के आधे चम्मच से लेकर तीन चम्मच तक का इस्तेमाल कर सकते हैं. (3) 
इसके पाउडर को आप अपनी इच्छा के अनुसार चाय या कॉफ़ी या फिर अपने टोस्ट में भी इस्तेमाल कर सकते हैं. दालचीनी की चाय बनाने के लिए आप इसका छोटा टुकड़ा पानी में डालिए और उबाल लीजिये, और फिर इसमें थोड़े नींबू के रस का मिश्रण मिला लीजिए.

हालांकि, इन बातों को भी याद रखें
दालचीनी लीवर (यकृत) की बीमारी को बढ़ा सकती है, इसलिए अगर आप ऐसी किसी समस्या से पीड़ित हैं, तो दालचीनी के इस्तेमाल से बचें (3). इसके अलावा दालचीनी के डायबिटीज़ से लड़ने के गुण पोस्ट मेनोपॉज़ (रजोनिवृत्त महिलाओं) वाली महिलाओं पर कम असर दिखाते हैं.(4).

इसे भी पढ़ें: डायबिटीज़ में आलू खाना चाहते हैं? तो इन बातों का ख़याल रखें

दालचीनी डायबिटीज़ पर कैसे काम करती है?

दालचीनी अग्नाशयी कोशिकाओं (
पैनक्रियाटिक सेल्स) से इंसुलिन को जारी करने के लिए उन्हें उत्तेजित करने में मदद करती है और इंसुलिन रिसेप्टर्स की गतिविधि में भी सुधार करती है; इसके अलावा, यह भी माना जाता है कि इससे कोशिकाओं द्वारा ग्लूकोज लेने की गति में तेज़ी आती है.
(5)

दालचीनी की छाल और इसके पाउडर के सेवन से टाइप 2 डायबिटीज़ से ग्रसित व्यक्ति के फ़ास्टिंग ब्लड शुगर ( खाली पेट ब्लड शुगर) के स्तर में कमी देखी गई है.(6)

हालाँकि यहाँ एक पेंच है, ज़्यादातर बढ़िया परिणाम पशुओं पर किये गए अध्ययन से आए हैं, जबकि कुछ इंसानों पर किये गए. जिन  परीक्षणों  को इंसानों  पर किया गया उनके नतीजों की व्याख्या करना मुश्किल साबित हुआ, इसके पीछे कई कारण रहे जैसे कम अवधि और खराब डिज़ाइन। एक अन्य महत्वपूर्ण कारक यह है कि ये अध्ययन सिलोन दालचीनी के बजाय कैसिया दालचीनी के साथ किया गया है, जिसने एक और कठिनाई को जन्म दिया.(2)

तो, क्या डायबिटीज़ के लिए दालचीनी प्रयोग करने लायक है?

बेंगलुरु स्थित के.आरपुरम के संजीविनी आयुर क्लिनिक में आयुर्वेदिक फिज़ीशीयान डॉ ए. कलारंजनी (बीएएमएस) कहती हैं, “परंपरागत रूप से, दालचीनी को दूसरे उपचारों के साथ डायबिटीज़ में उपयोगी पाया गया है। लेकिन मधुमेह से ग्रसित किसी ख़ास व्यक्ति के लिए कौन सा संयोजन काम करेगा उसका फ़ैसला व्यक्ति की शारीरिक संरचना को देखते हुए आयुर्वेदिक चिकित्सक द्वारा लिया जाना चाहिए”.

कंटेंट की समीक्षा: अश्विनी एस कनाडे, रजिस्टर्ड डाइटीशियन हैं और वो 17 सालों से मधुमेह से जुड़ी जानकारियों के प्रति लोगों को जागरुक कर रहीं हैं.
तथ्यों की जांच: आदित्य नर, बी.फ़ार्मा, एमएससी, पब्लिक हेल्थ एंड हेल्थ इकोनॉमिक्स.


सन्दर्भ:

1. Khan, N.A.Bryden, M.M. Polansky, R.A. Anderson. Insulin potentiating factor and chromium content of selected foods and spices. Biol Trace Elem Res. 1990 Mar; 24(3):183-8. Available at: https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/1702671?access_num=1702671&link_type=MED&dopt=
2. ACS News Service Weekly PressPac. Quantification of Flavoring Constituents in Cinnamon: High Variation of Coumarin in Cassia Bark from the German Retail Market and in Authentic Samples from Indonesia. Journal of Agricultural and Food Chemistry. Nov, 2010. Available at: https://www.acs.org/content/acs/en/pressroom/presspacs/2010/acs-presspac-november-3-2010/levels-of-coumarin-in-cassia-cinnamon-vary-greatly-even-in-bark-from-the-same-tree.html
3. Does Cinnamon Help Diabetes? Available at https://www.webmd.com/diabetes/cinnamon-and-benefits-for-diabetes
4. Deng. A Review of the Hypoglycemic Effects of Five Commonly Used Herbal Food Supplements. Recent Pat Food Nutr Agric. 2012;  Apr 1; 4(1); 50–60. Available at https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3626401/
5. Ransinghe, R.Jayawardana, P. Galappaththy, G.R. Constantine, G.N. de Vas, P. Katulanda. Efficacy and safety of ‘true’ cinnamon (Cinnamomum zeylanicum) as a pharmaceutical agent in diabetes: a systematic review and meta-analysis. Diabet Med. 2012 Dec; 29(12); 1480-92. doi: 10.1111/j.1464-5491.2012.03718.x.
6. B. Medagama. The glycaemic outcomes of Cinnamon, a review of the experimental evidence and clinical trials. Nutr J. 2015; 14:108.  doi:  10.1186/s12937-015-0098-9

Loved this article? Don't forget to share it!

Disclaimer: The information provided in this article is for patient awareness only. This has been written by qualified experts and scientifically validated by them. Wellthy or it’s partners/subsidiaries shall not be responsible for the content provided by these experts. This article is not a replacement for a doctor’s advice. Please always check with your doctor before trying anything suggested on this article/website.