How do diabetes medicines work
Reading Time: 4 minutes

क्या आपने कभी सोचा है कि डॉक्टर आपको इंसुलिन के बजाय तरह-तरह की दवाइयां क्यों देते हैं? क्या आपको यह बात हैरान करती है कि आपकी दवाइयां आपके ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखने में आपकी मदद कैसे करती हैं? अगर हां, तो हमसे जानें अपने इन सवालों के जवाब.

डायबिटीज़ के दौरान ज़िंदग़ी में सेहतमंद आदतों को बरक़रार रखने के साथ ही आपको डायबिटीज़ फ्रेंड्ली खानपान और इंसुलिन या दवाओं को शामिल करना पड़ सकता है. आपकी दवाइयों का प्लान आपके डायबिटीज़ के प्रकार और ब्लड शुगर लेवल के मुताबिक़ तय होता है.(1)

  • टाइप 1 डायबिटीज़: टाइप 1 डायबिटीज़ से प्रभावित लोगों को इंसुलिन लेने की ज़रूरत होती है क्योंकि उनका शरीर क़ुदरती ढंग से इंसुलिन नहीं ना पाता.

  • टाइप 2 डायबिटीज़: हालांकि, टाइप 2 डायबिटीज़ से प्रभावित लोगों में इंसुलिन तो बनता है, मगर उनका शरीर इसका इस्तेमाल नहीं कर पाता.(2) ऐसे में कुछ लोग खानपान और फ़िज़िकल एक्टिविटी की मदद से अपने ब्लड शुगर लेवल पर क़ाबू पा लेते हैं, मगर कुछ लोगों को दवाइयां खाने की ज़रूरत होती है. कुछ लोगों को इंसुलिन की ज़रूरत भी पड़ सकती है.(3)

    इसे भी पढ़ें: 
    डायबिटीज़ में ज़रूरी है HbA1c टेस्ट की जानकारी
  • जेस्टेशनल डायबिटीज़: कुछ महिलाओं में पहली प्रेग्नेंसी के दौरान डायबिटीज़ होने के आसार होते हैं. ऐसी हालत में नियमित फ़िज़िकल एक्टिविटी और सेहतमंद खानपान ही ब्लड शुगर लेवल को क़ाबू करने के लिए काफ़ी होता है.(2) अगर इनसे ब्लड शुगर लेवल क़ाबू नहीं होता, तो इंसुलिन या कुछ दवाइयां इस्तेमाल की जाती हैं. डायबिटीज़ की कई दवाइयां प्रेग्नेंसी और बच्चों को स्तनपान कराने के दौरान इस्तेमाल नहीं की जाती, तो अपने डॉक्टर से पूछें कि आपके लिए सबसे बेहतर क्या रहेगा.(1,4)
  • इंसुलिन

ग्लूकोज़ शरीर के लिए एनर्जी उपलब्ध कराने का सबसे अहम ज़रिया है. इंसुलिन की मदद से शरीर खाने से मिले ग्लूकोज़ को इस्तेमाल और स्टोर करता है. यह  एक कुदरती हॉर्मोन है, जो पैंक्रियाज़ में बनता है. इंसुलिन वो चाभी है जो हमारे कोशिकाओं के दरवाज़े खोलता है ताकि ग्लूकोज़ उनमें दाखिल हो सके. टाइप 1 डायबिटीज़ से प्रभावित लोगों में पैंक्रियाज़ इंसुलिन नहीं बनाता. इसलिए शरीर में ग्लूकोज़ का इस्तेमाल करने के लिए इंसुलिन लेने की ज़रूरत पड़ती है.(5,6)

  • खाने वाली दवाइयां

टाइप 2 डायबिटीज़ से प्रभावित लोगों में हमेशा बने रहने वाले हाई ब्लड शुगर लेवल को क़ाबू करने के लिए सबसे पहले खाने वाली दवाइयों से ट्रीटमेंट का सहारा लिया जाता है. अगर शरीर इंसुलिन बनाता भी है, तब भी डॉक्टर ब्लड शुगर लेवल क़ाबू करने के लिए खाने वाली दवाइयां दे सकते हैं क्योंकि शरीर बनाए गए इंसुलिन के प्रति रिएक्ट नहीं करता.(5) डायबिटीज़ में इस्तेमाल होने वाली अलग-अलग दवाइयों के क़िस्म और उनके काम करने के तरीकों की लिस्ट नीचे दी गई है:

1. बाइग्वानाइड:

इस क़िस्म की दवाइयां (जैसे, मेटफॉर्मिन) कोशिकाओं में अच्छे से ग्लूकोज़ पहुंचाकर ब्लड शुगर लेवल को कम करती हैं. ये दवाइयां ज़्यादा ग्लूकोज़ बनाने से लीवर को रोकती भी हैं.(2)

2. डोपामाइन रिसेप्टर एगोनिस्ट

ये दवाइयां (जैसे, ब्रोमोक्रिप्टीन) खाने के बाद ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित करने में मदद करती हैं. ये कोशिकाओं में डोपामाइन के लेवल पर असर करती हैं.(2)

पढ़ें: वो 6 टेस्ट जो डायबिटीज़ का पता लगाते हैं

3. मेग्लिटाइनाइड

ये दवाइयां (जैसे, नैटेग्लाइनाइड और रिपैग्लाइनाइड) खाने के दौरान और ज़्यादा इंसुलिन बनाने के लिए पैनक्रियाज को उकसाती हैं.(2,7)

4. सल्फोनील्यूरिया

ये दवाइयां, जैसे मेग्लिटाइनाइड, पैनक्रियाज़ को और ज़्यादा इंसुलिन (जैसे, ग्लाइमपाइराइड, ग्लाइब्युराइड, क्लोप्रोपैमाइड, ग्लिपिज़ाइड, टॉलब्युटामाइड और टोलाज़ामाइड) बनाने के लिए उकसाती हैं.(2)

5. अल्फा-ग्लुकोसिडेस अवरोधक

ये दवाइयां (जैसे, मिग्लिटॉल और अकार्बोज़) पास्ता, आलू, ब्रेड और चीनी जैसे स्टार्च को आंतों में घुलने से रोकती हैं, नतीजन शुगर धीरे पच सके.(2,7)

6. पित्त अम्ल अनुक्रमक

ये दवाइयां (जैसे, कॉलसेवलम) नसों में नहीं उतरती, इसलिए ये ऐसे लोगों को दी जाती हैं जो लीवर की परेशानियों की वज़ह से डायबिटीज़ की दूसरी दवाइयां नहीं ले पाते. इनके काम करने का तरीका स्पष्ट नहीं है.(2,7)

7. डाइपेप्टिडाइल पेप्टाइडेस-4 (DPP-4) अवरोधक

हमारा शरीर एक कंपाउंड GPL-1 बनाता है, जो शरीर में ब्लड शुगर लेवल घटाने का काम करता है. जबकि, GPL-1 बहुत जल्दी घुल जाता है, इसलिए DPP-4 अवरोधक इनके टूटने को रोककर लंबे वक़्त तक शरीर में बने रहने में इनकी मदद करता है. ये दवाइयां (जैसे, साइटाग्लिप्टिन, सैक्साग्लिप्टिन, ऐलोग़्लिप्टिन और लाइनाग्लिप्टिन) ब्लड शुगर लेवल कम करने में मदद करती हैं.(7)

8. सोडियम-ग्लूकोज ट्रांस्पोर्टर 2 (SGLT2) अवरोधक

ख़ून में मिला ग्लूकोज़ किडनी से गुजरता है, जहां या तो ये यूरिन के साथ निकल जाता है या दोबारा रगों में सोख लिया जाता है. SGLT2 ग्लूकोज़ को दोबारा किडनी के ख़ून तक पहुंचाता है. SGLT2 अवरोधक (जैसे, डेपाग्लिफ्लोज़िन, कैनाग्लिफ्लोज़िन और एर्टुग्लिफ्लोज़िन) SGLT2 के काम में बाधा डाल कर रगों में ग्लूकोज़ के दोबारा जाने से बचाता है और इस ग्लूकोज़ को यूरिन में निकलने में मदद करता है.(2,7)

9. थायाजोलिडाइनडियोन

ये दवाइयां ग्लूकोज़ का बेहतर इस्तेमाल करने में आपके शरीर की कोशिकाओं की मदद करती हैं, जिससे ब्लड ग्लूकोज़ लेवल कम होता है (जैसे, रोजिग्लिटाजोन, पायोग्लिटजोन).(2)

10. ओरल कॉम्बिनेशन थेरेपी

जब किसी दवा से आपका ब्लड शुगर लेवल क़ाबू नहीं होता, तब डॉक्टर आपको एक या इनसे ज़्यादा दवाओं का कॉम्बिनेशन दे सकते हैं.(7)

आपके ब्लड शुगर लेवल को क़ाबू में रखने के मुताबिक़ आपके डायबिटिज़ ट्रीटमेंट में बदलावों की ज़रूरत पड़ सकती है. डायबिटीज़ की दवाइयां बंद करने या उनकी ख़ुराक बदलने के साथ-साथ किसी नए एक्सरसाइज़ या खानपान की शुरुआत शुरु करने से पहले आपको अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए.(8)

इससे कोई फर्क़ नहीं पड़ता कि आपके डॉक्टर ने क्या दवाइयां दी हैं, इनको अपनी सेहतमंद ज़िंदग़ी में शामिल कर अपने डायबिटीज़ पर क़ाबू पाएं.(8,9)

याद रखें, खानपान को कंट्रोल में रखकर या एक्सरसाइज़ जैसे क़ुदरती तरीकों से अपने ब्लड शुगर पर क़ाबू करना ढेर सारी दवाइयों को खाने से कहीं बेहतर है.(9)

संदर्भ:

  1. National Institute of Diabetes and Digestive and Kidney Diseases. Insulin, medicines, & other diabetes treatments [Internet]. [updated 2016 Dec, cited 2019 Nov 13]. Available from: https://www.niddk.nih.gov/health-information/diabetes/overview/insulin-medicines-treatments
  2. Food and Drug Administration. Diabetes medicines [Internet]. [cited 2019 Nov 13]. Available from: https://www.fda.gov/media/119148/download
  3. American Diabetes Association. Medication management [Internet]. [cited 2019 Nov 13]. Available from: https://www.diabetes.org/diabetes/medication-management
  4. National Diabetes Education Program. Medicines for diabetes control [Internet]. [cited 2019 Nov 13]. Available from: https://www.cdc.gov/diabetes/diabetesatwork/pdfs/MedicinesControl.pdf
  5. American Diabetes Association. Insulin basics [Internet]. [cited 2019 Nov 13]. Available from: https://www.diabetes.org/diabetes/medication-management/insulin-other-injectables/insulin-basics
  6. Harvard Medical School. Sugar and the brain [Internet]. [cited 2019 Nov 13]. Available from: https://neuro.hms.harvard.edu/harvard-mahoney-neuroscience-institute/brain-newsletter/and-brain-series/sugar-and-brain
  7. American Diabetes Association. What are my options? [Internet]. [cited 2019 Nov 13]. Available from: https://www.diabetes.org/diabetes/medication-management/oral-medication/what-are-my-options
  8. Healthdirect Australia. Diabetes medication [Internet]. [updated 2018 July; cited 2019 Nov 13]. Available from: https://www.healthdirect.gov.au/diabetes-medication
  9. Familydoctor. Oral medicines for diabetes [Internet]. [updated 2018 Feb 08; cited 2019 Nov 13]. Available from: https://familydoctor.org/oral-medicines-for-diabetes/

Loved this article? Don't forget to share it!

Disclaimer: The information provided in this article is for patient awareness only. This has been written by qualified experts and scientifically validated by them. Wellthy or it’s partners/subsidiaries shall not be responsible for the content provided by these experts. This article is not a replacement for a doctor’s advice. Please always check with your doctor before trying anything suggested on this article/website.