lifestyle-management-dyslipidemia-treatment
Reading Time: 3 minutes

मुमकिन है कि अचानक आपको डिसलिपिडिमिया के होने की बात मालूम पड़े. लेकिन इसमें बहुत ज्यादा परेशान होने की बात नहीं है. लाइफ़स्टाइल में महज़ कुछ बदलावों से आप इस पर क़ाबू पा सकते हैं.

डिसलिपिडिमिया किसे कहते हैं?

ख़ून में लिपिड (एक तरह का अघुलनशील पदार्थ) की मात्रा बढ़ जाने की स्थिति को डिसलिपिडिमिया के नाम से जाना जाता है.

शरीर में ख़ासतौर पर तीन तरह का लिपिड पाया जाता है: हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन (HDL) और लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन (LDL) यह दोनों कोलेस्ट्रॉल के ख़ास प्रकार हैं और तीसरा है ट्रायग्लिसराइड, जो ख़ून में मौजूद फ़ैट का एक प्रकार है.

डिसलिपिडिमिया के होने का मतलब है कि आपके शरीर में हाइपरलिपिडिमिया या LDL (ख़राब कोलेस्ट्रॉल) और ट्रायग्लिसराइड का स्तर बढ़ा हुआ है, यह इसका सबसे सामान्य प्रकार है. इसके अलावा डिसलिपिडिमिया का एक और प्रकार है, जिसमें HDL (अच्छे कोलेस्ट्रॉल) की मात्रा कम हो जाती है, पर इससे परेशान लोगों की तादाद उतनी ज़्यादा नहीं है.

LDL और ट्रायग्लिसराइड के चलते कार्डियोवैस्कुलर से जुड़ी बीमारियों का ख़तरा बढ़ जाता है.

आइए जानें, लाइफ़स्टाइल से जुड़े वो कौन से बदलाव हैं, जिनकी मदद से डिसलिपिडिमिया का इलाज किया जा सकता है.  

अगर आपको गंभीर डिसलिपिडिमिया या इसके साथ दूसरी बीमारी भी है, तो हो सकता है कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित करने के लिए आपको दवाओं का सहारा लेना पड़े. लेकिन, इसका ये मतलब हरगिज़ नहीं कि आपको सेहतमंद आदतों को अपनाने की ज़रूरत नहीं. डिसलिपिडिमिया के इलाज में सही लाइफ़स्टाइल की अहम भूमिका होती है.

लाइफ़स्टाइल के किन पहलुओं को सुधारना चाहिए?

खानपान

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन का कहना है कि कोलेस्ट्रॉल लेवल में कमी लाने के लिए दिल को सेहतमंद बनाने वाला डायट लेना चाहिए.[1] मतलब कि आपको रेड मीट, फ़्राइड फ़ूड जैसे सैचुरेटेड फ़ैट और ट्रांस फ़ैट वाली कोलेस्ट्रॉल से भरपूर चीज़ों को खाने से बचना है. इसकी बजाय आपके खाने में फ़ाइबर वाली ढेर सारी सब्ज़ी फल, साबुत अनाज और सेहतमंद, अनसैचुरेटेड फ़ैट वाले सूखे मेवें, बीज, दाल, फ़िश और ऑलिव ऑइल जैसी चीज़ें शामिल करनी है.   

मोटापा

बढ़े हुए वज़न (ख़ासकर कमर और कूल्हों के इर्द-गिर्द के हिस्से में) के चलते शरीर के LDL कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकालने की क्षमता प्रभावित होती है, नतीज़न, ख़ून में इसका स्तर बढ़ने लगता है.[2] इसलिए वज़न कम करना बहुत ज़रूरी है. जिससे ज़्यादा वज़न वाले शरीर को कोलेस्ट्रॉल लेवल घटाने में मदद मिले.

शारीरिक गतिविधि (फ़िज़िकल एक्टिविटी)

डायबिटीज़ और कार्डियोवैस्कुलर से जुड़ी बीमारियों के लिए ख़ासतौर पर फिज़िकल एक्टिविटी न करने की आदत और ठहरी हुई लाइफ़स्टाइल ये दो चीज़ें ज़िम्मेदार होती हैं. एक्सरसाइज़ करने से सही वज़न बनाए रखने में मदद मिलती है. सही वज़न से दिल को मज़बूती मिलती है, ख़ून का दौरा सही बना रहता है, कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर लेवल में कमी होती है.[2]

अगर दिन में कम से कम 30 मिनट अच्छे से ब्रिस्क वॉक, जॉगिंग, रनिंग, साइकिल चलाने, तैराकी या एरोबिक जैसी एक्सरसाइज़ करें, तो पूरे शरीर में आपको ख़ास सुधार होता हुआ नज़र आने लगेगा.

नींद

आज की भगा-दौड़ भरी ज़िंदगी में नींद न पूरी होने की शिकायत काफ़ी आम हो चली है. यूएस नेशनल हार्ट, लंग एंड ब्लड इंस्टिट्यूट (NHLBI) के मुताबिक़ कम सोने और अच्छे से न सोने की वजह से ब्लड प्रेशर, मोटापा, दिल की बीमारी और स्ट्रोक का ख़तरा बढ़ता है. NHLBI हर व्यक्ति को रोज़ाना कम से कम 7-8 घंटे सोने की सलाह देता है.[3]  

धूम्रपान

लाइफ़स्टाइल की सभी आदतों में शरीर के लिए सबसे ज़्यादा घातक होता है धूम्रपान. डिसलिपिडिमिया के मामले में भी यह LDL कोलेस्ट्रॉल, ऐथिरोस्क्लेरोसिस और ब्लड प्रेशर  लेवल को बढ़ाता है.[4] अपनी सेहत को ठीक ढंग से सुधारने के लिए सबसे पहले आपको धूम्रपान से तौबा करना होगा.

नई आदतों को अपनाने और उन्हें लंबे समय तक बरक़रार रखने के लिए बहुत ज़्यादा प्रतिबद्धता, समर्पण और अनुशासन की ज़रूरत होती है. आप सही राह में आगे बढ़ रहे हैं इसे निश्चित करने के लिए ज़रूरी लाइफ़स्टाइल की गतिविधियों का ट्रैक रखने के लिए आप ऐप की मदद ले सकते हैं.

नियमित तौर पर खान-पान फ़िज़िकल एक्टिविटी और सेहत की जानकारी ऐप पर दर्ज करने से आप अपनी आदतों से वाक़िफ़ रहेंगे. इसके ज़रिए, आप सही आदतों से होने वाले असर को समझ सकेंगे.

संदर्भ:

  1. American Heart Association. Prevention and Treatment of High Cholesterol (Hyperlipidemia). Available at: https://www.heart.org/en/health-topics/cholesterol/prevention-and-treatment-of-high-cholesterol-hyperlipidemia [Accessed 9 April 2019].
  2. The Center for Disease Control and Prevention. Preventing High Cholesterol. Available at: https://www.cdc.gov/cholesterol/prevention.htm [Accessed 9 April 2019].
  3. National Heart, Lung, and Blood Institute. Your Guide to Healthy Sleep. Available at: https://www.nhlbi.nih.gov/health-topics/all-publications-and-resources/your-guide-healthy-sleep [Accessed 9 April 2019].
  4. The Center for Disease Control and Prevention. Smoking and Cardiovascular Disease. Available at: https://www.cdc.gov/tobacco/data_statistics/sgr/50th-anniversary/pdfs/fs_smoking_CVD_508.pdf [Accessed 9 April 2019].

Loved this article? Don't forget to share it!

Disclaimer: The information provided in this article is for patient awareness only. This has been written by qualified experts and scientifically validated by them. Wellthy or it’s partners/subsidiaries shall not be responsible for the content provided by these experts. This article is not a replacement for a doctor’s advice. Please always check with your doctor before trying anything suggested on this article/website.