Poor sleep and ischaemic heart disease
Reading Time: 3 minutes

इस्केमिक हार्ट डिज़ीज़ (IHD) दिल की एक ऐसी कंडीशन है, जो दिल की धमनियों के संकरा हो जाने की वजह से होती है. नतीजा यह कि हार्ट की मसल्स तक ऑक्सीजन और ख़ून की सप्लाई सही तरह नहीं हो पाती, जिससे धीरे-धीरे बात हार्ट अटैक तक पहुंच जाती है.(1) इस कंडीशन को कोरोनरी हार्ट डिज़ीज़ या कोरोनरी आर्टरी डिज़ीज़ भी कहते हैं.(1)

आम तौर से IHD के जोख़िम का संबंध उम्र, लिंग, शरीर के वज़न, डाइट और सिगरेट पीने जैसी नुक़सानदेह आदतों के साथ जोड़ा जाता है. लेकिन कुछ हालिया स्टडीज़ इशारा करती हैं कि नींद पूरी ना होने से भी IHD का जोखिम हो सकता है. इस आर्टिकल में हम उन लोगों के IHD के जोखिम की बात करेंगे, जो सोने के मामले में बुरी आदतें अपनाएं हुए हैं.

इस्केमिक हार्ट डिज़ीज़ में क्या होता है?

IHD में एथेरोस्क्लेरोसिस यानी धमनियों के सख्त हो जाने की वजह से यह संकरी हो जाती है. ऐसा धमनियों में प्लाक जमने की वजह से होता है. प्लाक फ़ैट और कोलेस्ट्रॉल से बनता है. यह प्लाक धमनियों को जाम कर देता है और दिल की मांसपेशियों तक होने वाली ख़ून की सप्लाई को रोक देता है. दिल तक ऑक्सीजन और विटामिन की सही मात्रा ना पहुंचने की वजह से दिल की मांसपेशियों में जकड़न पैदा होती है, जिससे सीने में दर्द होता है. अगर दिल ज़रूरत भर का ऑक्सीजन पाने में नाकाम रहता है, तो आख़िर में हार्ट अटैक तक आ सकता है.(2)

ख़राब नींद कैसे आपकी दिल की सेहत पर असर डालती है?

ख़राब नींद की कंडीशन इस तरह होती हैं:(3) 

  • बहुत कम देर या बहुत ज़्यादा देर सोना 
  • गहरी नींद आने में परेशानी होना
  • नींद पूरी कर पाने में परेशानी 

‘सेंटर फ़ॉर डिज़ीज़ कंट्रोल एंड प्रिवेंशन’ ने 2017 की एक रिपोर्ट में अच्छी सेहत के लिए रोज़ाना 7 घंटे सोने की सलाह दी थी. डॉक्टरों के लिए इसे समझना ज़रूरी है कि सही नींद ना मिलने से दिल की बीमारी का जोख़िम बढ़ता है और लोगों की नींद की क्वालिटी और नींद की अवधि पर ध्यान दें.(4) कुछ ख़ास तरह की दवाएं, हेल्थ कंडीशन, शिफ्ट में काम करना या देर रात तक घूमना-फिरना जैसी कई वजहों से नींद पूरी नहीं हो पाती.(5) स्टडीज़ के मुताबिक़ ख़राब नींद की नीचे बताई गई वजहें IHD के जोख़िम का कारण बनती हैं:(6-8)

  • एक्सपेरिमेंटल आंकड़ों से पता चलता है कि ख़राब नींद पैथोलॉजिकल बदलावों के लिए ज़िम्मेदार होती है, जैसे कि ब्लड प्रेशर का बढ़ना, सूजन, ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस और एंडोथेलियल (ख़ून की धमनियों और दिल में एक झिल्ली के कामकाज में गड़बड़ी). ये IHD के जोख़िम के बड़े कारण होते हैं.(6)
  • कुछ स्टडीज़ में नींद की अवधि को IHD के जोख़िम के साथ जोड़ा गया है. रात में 8 घंटे की नींद लेने वालों के मुक़ाबले 5 घंटे से कम सोने वालों को IHD का ख़तरा ज़्यादा होता है.(7) इसके अलावा, नींद कितनी देर ली गई, इसका संबध शरीर में बढ़े हुए इंफ्लेमेटरी रेस्पौंस से जुड़ा होता है, जोकि IHD का जोख़िम बढ़ा देता है.(8)
  • एक स्टडी में नींद की क्वालिटी को भी IHD के जोख़िम के साथ जोड़ा गया है. इसमें ख़राब नींद प्रोफ़ाइल और IHD के बीच एक संबंध बताया गया है. ऐसी संभावना जताई गई है कि नींद पूरी ना होने से ख़ून में कुछ केमिकल्स के सर्कुलेटिंग लेवल में तेज़ी आ जाती है. इससे मोटापा बढ़ता है, एनर्जी के इस्तेमाल में कमी आती है और ग्लूकोज़ का चयापचय कमज़ोर हो जाता है. और यही चीज़ें IHD के जोख़िम की वजह बन सकती हैं.(8)

आख़िर में यही कहा जा सकता है कि नींद की अवधि और नींद की क्वालिटी IHD के जोख़िम में अहम रोल अदा करते हैं. अब क्योंकि आप अपनी नींद की आदतों को बदल सकते हैं, इसलिए यह आपके हाथ में है कि आप रात को अच्छी नींद लें और अपने दिल को IHD के जोख़िमों से बचाए रखें.

देर रात तक जागने से बचें और IHD से दूर रहें. इन छुट्टी के दिनों में अच्छी नींद लें और दिल की अच्छी सेहत हासिल करें.

संदर्भ:

  1. American Heart Association. Silent ischemia and ischemic heart disease [Internet]. [updated 2015 Jul 31; cited 2019 Dec 26]. Available from: https://www.heart.org/en/health-topics/heart-attack/about-heart-attacks/silent-ischemia-and-ischemic-heart-disease.
  2. Cleveland Clinic. Coronary heart disease [Internet]. [updated 2019 May 14; cited 2019 Dec 26]. Available from: https://my.clevelandclinic.org/health/diseases/16898-coronary-artery-disease.
  3. European Society of Cardiology. Poor sleep is associated with ischaemic heart disease and stroke [Internet]. [updated 2017 Aug 29; cited 2019 Dec 26]. Available from: https://www.escardio.org/The-ESC/Press-Office/Press-releases/Poor-sleep-is-associated-with-ischaemic-heart-disease-and-stroke.
  4. Kuehn BM. Sleep duration linked to cardiovascular disease. Circulation. 2019;139:2483-2484. doi: 10.1161/Circulationaha.119.041278.
  5. Victoria State Government. Better health channel. Sleep deprivation [Internet]. [cited 2019 Dec 26]. Available from: https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/conditionsandtreatments/sleep-deprivation.
  6. Yuan R, Wang J, Guo L. The effect of sleep deprivation on coronary heart disease. Chin Med Sci J. 2016;31(4):247-253.
  7. Ayas NT, White DP, Manson JE, Stampfer MJ, Speizer FE, Malhotra A. A prospective study of sleep duration and coronary heart disease in women. Arch Intern Med. 2003;163(2):205-209. doi:10.1001/archinte.163.2.205.
  8. Lao XQ, Liu X, Deng HB, Chan TC, Ho KF, Wang F. Sleep quality, sleep duration, and the risk of coronary heart disease: A prospective cohort study with 60,586 adults. Journal of Clinical Sleep Medicine. 2018;14(1):109-117. doi: http://dx.doi.org/10.5664/jcsm.6894.

Loved this article? Don't forget to share it!

Disclaimer: The information provided in this article is for patient awareness only. This has been written by qualified experts and scientifically validated by them. Wellthy or it’s partners/subsidiaries shall not be responsible for the content provided by these experts. This article is not a replacement for a doctor’s advice. Please always check with your doctor before trying anything suggested on this article/website.