Reading Time: 3 minutes

खजूर को शक्कर और विटामिन का एक बड़ा स्रोत माना जाता है, इसलिए यह रमज़ान के दौरान ख़ास तौर से फ़ायदेमंद होते हैं. फ़ाइबर और कार्बोहाइड्रेट का एक शानदार स्रोत खजूर, रोज़े में लंबे समय तक ख़ाली पेट रहने की वजह से होने वाले लो ब्लड प्रेशर, सिर दर्द और सुस्ती जैसी समस्याओं से निपटने में भी मदद करते हैं. लेकिन बात बस इतनी सी नहीं है. खजूर के बारे में हम जितना जानते हैं, इसमें उससे कहीं ज़्यादा ख़ूबियां होती हैं.

10 ख़ास किस्मों और सैकड़ों तरह की भिन्नताओं वाला खजूर का फल रमज़ान के महीने में रोज़ा खोलने के लिए सबसे ज़्यादा पसंदीदा चीजों में से एक है. शुगर और पोषक तत्वों से भरपूर खजूर शरीर में एनर्जी देने का काम करता है.

रमज़ान में खजूर खाकर रोज़ा खोलने की हमेशा से एक परंपरा रही है. हदीसों के मुताबिक़, अल्लाह के पैग़म्बर नमाज़ से पहले पके खजूर से अपना रोज़ा खोलते थे.2 इसलिए, खजूर से रोज़ा खोलने की इस्लाम में अपनी अहमियत भी है. 

खजूर के पेड़ का मिडिल ईस्ट में एक लंबा इतिहास रहा है, क्योंकि इस क्षेत्र में हजारों सालों से खजूर की खेती की जाती रही है. गर्म और शुष्क जलवायु खजूर उगाने के लिए सबसे सही स्थिति होती है.

खजूर की क़िस्में 

अलग-अलग बनावट, रंग और ज़ायके वाले खजूर की सैकड़ों क़िस्में होती हैं, लेकिन उनमें से ये दस किस्में सबसे ज़्यादा ख़ास हैं, जो इस तरह हैं:

  1. बरही 
  2. डेग्लेट नूर
  3. फ़र्द
  4. हल्लावी 
  5. ख़दरावी  
  6. ख़लस 
  7. ख़सब 
  8. लुलु 
  9. मदजूल 
  10. ज़ाहिदी 

खजूर के नुट्रीशनल फ़ायदे 

खजूर के फल को इसकी एंटीऑक्सीडेंट और एंटीमाइक्रोबिअल ख़ूबियों के लिए जाना जाता है.3 खजूर की अलग-अलग क़िस्मों से मिलने वाले फ़ायदे और उनकी नुट्रीशनल जानकारी नीचे दिए गए चार्ट में देखी जा सकती है.

 

 

 

 

 

मेदजूल या मद्जूल, और डेग्लेट नूर, खजूर की सबसे ज़्यादा खपत वाली क़िस्में हैं. दिन भर के उपवास को तोड़ने के लिए यह सबसे पसंदीदा चीज़ क्यों है, ये रहीं इसकी कुछ वजहें:

  1. खजूर आसानी से हज़म होता है, इसलिए दिन भर के रोज़े में ख़ाली पेट रहने के बाद अगर आप ऐसा कुछ खाना चाहते हैं कि आपके पेट को किसी तरह की परेशानी न हो, तो खजूर से बेहतर कुछ नहीं है.
  2. हर एक मेद्जूल खजूर में लगभग 1.6 ग्राम फ़ाइबर होता है, जो इंसान की रोज़ाना की फ़ाइबर की ज़रूरत का लगभग 5% है. यह कोलेस्ट्रॉल और ब्लड शुगर लेवल को क़ाबू में रखकर शरीर को सेहतमंद बनाए रखता है.
  3. पोटैशियम कई बुनियादी शारीरिक प्रक्रियाओं के लिए एक अहम मिनरल है और खजूर पोटैशियम का एक बड़ा स्रोत होता है. 
  4. खजूर में मैग्नीशियम, कॉपर, विटामिन बी, मैंगनीज़, आयरन, राइबोफ्लेविन और विटामिन K जैसे अन्य पोषक तत्व भी पाए जाते हैं.
  5. खजूर में मौजूद अल्कलाइन साल्ट, ख़ून में एसिडिटी की मात्रा घटाने में मदद करते हैं. यह एसिडिटी बहुत ज़्यादा मांस या कार्बोहाइड्रेट खाने से हो सकती है.

खजूर के इसके अलावा भी बहुत से फ़ायदे हैं, जो इस फल को उन लोगों के लिए सही विकल्प बनाते हैं, जो अपने रमज़ान के फ़ास्ट यानी को तोड़ने यानी इफ्तार के लिए कुछ हेल्थी और ज़ायकेदार चीज़ खाना चाहते हैं. 

सन्दर्भ:

  1. Ghnimi S, Umer S, Karim A, Kamal-Eldin A. Date fruit ( Phoenix dactylifera L.): An underutilized food seeking industrial valorization. NFS Journal. 2017;6:1-10.
  2. Dadach, Zin Eddine. 9 HABITS OF THE PROPHET MUHAMMAD THAT SCIENCE LATER PROVED. 2019.
  3. Rahmani A, Aly S, Ali H, Babiker A, Srikar S, Khan A. Therapeutic effects of date fruits (Phoenix dactylifera) in the prevention of diseases via modulation of anti-inflammatory, anti-oxidant and anti-tumour activity. International Journal of Clinical and Experimental Medicine. 2014; 7(3): 483–491.

Loved this article? Don't forget to share it!

Disclaimer: The information provided in this article is for patient awareness only. This has been written by qualified experts and scientifically validated by them. Wellthy or it’s partners/subsidiaries shall not be responsible for the content provided by these experts. This article is not a replacement for a doctor’s advice. Please always check with your doctor before trying anything suggested on this article/website.