Reading Time: 4 minutes

नए कोरोना वायरस डिज़ीज़ COVID-19 से प्रभावित लोगों की संख्या तेज़ी से बढ़ने के साथ ही इस दौरान सफ़र के बारे में भी तमाम तरह के सवाल उठ रहे हैं, जैसे कि ‘यात्रा के दौरान सुरक्षित कैसे रहा जाए’ या फिर ‘क्या ऐसे समय में यात्रा की जानी चाहिए?’. ना सिर्फ़ अपनी, बल्कि दूसरों  की भी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इन दिनों सफ़र किया जाना सुरक्षित नहीं माना जा रहा है.

चीन में हुई इस बीमारी की शरुआत के बाद से यह दुनिया भर में फैल चुकी है, लेकिन अब तक इसका कोई इलाज सामने नहीं आया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की सलाह है कि जहां तक मुमकिन हो, सभी लोग सफ़र करने से बचें. हालांकि महज़ सफ़र करना इस बीमारी के फैलने का कारण नहीं, बल्कि इससे जुड़ी कई बातें हैं, जो इस बीमारी को बढ़ाने में अहम रोल निभा रही हैं.

COVID-19 का मुक़ाबला करने और इसपर कंट्रोल करने में यात्रा को लेकर इतनी बातें क्यों की जा रही हैं?

क़ायदे से देखें तो आपके सफ़र का सबसे अहम पहलू यह है कि आप जा कहां रहे हैं. देखें कि वहां पर सेहत की देखभाल के लिए सारी सुविधाएं अच्छी तरह से उपलब्ध हैं? इसके बाद, अगर आप इन्फेक्शन का शिकार हो गए, तो क्या आप ख़ुद को सबसे अलग-थलग रख पाएंगे? क्या आप घर से इतने दिन की फ़ुर्सत लेकर निकल रहे हैं? WHO ने यात्रा के बारे में जनवरी माह से ही सलाह देना शुरू कर दिया है, जिसमें सफ़र के दौरान एहतियात बरतने, साफ़-सफ़ाई का ध्यान रखने, खांसते समय सावधानी बरतने और लोगों से दूरी बनाकर रखने की बात कही गई है. WHO, समय-समय पर इस बारे में लगातार सुझाव देता आ रहा है.

भारतीय यात्रियों के लिए

WHO से पब्लिश की गई रिपोर्ट के मुताबिक़, यह  इन्फेक्शन बहुत तेज़ी से एक से दूसरे में फैलता  है, लेकिन यह वायरस हवा के ज़रिए नहीं फैल रहा, इसलिए घबराने की ज़रूरत नहीं है. आप सफ़र के दौरान बस इतना ध्यान रखें कि अपना हाथ कहां रख रहे हैं, जाने-अनजाने में किस चीज़ को छू रहे हैं(1). इसके साथ ही अपना चेहरा, आंखें, नाक और होंठ छूने से पहले हाथों को साबुन-पानी से अच्छी तरह धोना या सैनिटाइज़ करना ना भूलें.

लेकिन भारत सहित कई देशों ने विदेश और देश के भीतर, सभी तरह के सफ़र पर कुछ दिनों के लिए पाबंदी लगाने का क़दम उठाया है. दूसरे देशों से भारत आने वालों, ख़ासकर ऐसे देश से जहां यह महामारी फैली हुई है, उनसेस्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने 14 दिनों के लिए ख़ुद को सबसे अलग रखने की सिफारिश की है. इसके अलावा भारत ने अब हवाई यात्राओं पर पाबंदी लगाने के साथ ही देश की सरहदों के ज़रिए भारत में प्रवेश करने पर भी रोक लगा दी है. इन हालात में ग़ैर ज़रूरी यात्राओं से बचना ही बेहतर है.(2)

और अगर आपको किसी ख़ास वजह से सफ़र पर निकलना ही है, तो जहां जा रहे हैं, वहां के हालात के बारे में अच्छी तरह से जानकारी लें और ज़रूरी सावधानी बरतें. अपने हाथों को बार-बार साबुन औरपानी से धोएं या अल्कोहल बेस्ड सैनिटाइज़र से सैनिटाइज़ करें.(3) इसके अलावा दूसरे लोगों से 3 से 6 फ़िट की दूरी बनाकर रखें. ख़ासकर अगर कोई बीमार है, तो उससे दूरी बनाकर रखना बेहद अहम है.(4)

CDC (Centers for Disease Control and Prevention) की सलाह है कि अगर आप देश के भीतर भी यात्रा कर रहे हैं, तब भी इन पहलुओं पर विचार ज़रूर करें;

  • आप जिस इलाक़े में जा रहे हैं, क्या वहां COVID-19 का प्रकोप फैला हुआ है?
  • क्या आप सफ़र के दौरान दूसरों के बहुत ज़्यादा करीब में बैठकर सफ़र करेंगे?
  • क्या आपको या इस सफ़र में आपके साथ जा रहे व्यक्ति को  (अगर आप अन्य लोगों को अपने साथ ले जा रहे हैं) बीमारी होने की संभावना है?
  • अगर आप इन्फेक्शन का शिकार हो जाते हैं, तो क्या आपके पास वहां कोई ऐसी जगह है, जहां आप सबसे दूरी बनाकर 15 दिन का समय गुज़ार सकें?
  • उम्रदराज़ (60 साल से ऊपर) और किसी पुरानी बीमारी से प्रभावित लोगों को COVID-19 इन्फ़ेक्शन का ख़तरा ज़्यादा होता है. क्या आपके घर में ऐसे लोग हैं?
  • अगर आप घर लौट रहे हैं, तो क्या यह आपके इलाक़े या लोगों के बीच फैल रहा है?

इस बारे में चिंता क्यों की जानी चाहिए?

यह तो पहले से ही पता है कि यह वायरस यात्रियों से भरी बस और ट्रेनों जैसे पब्लिक ट्रांसपोर्ट और भीड-भाड़ वाले क्षत्रों में बड़े पैमाने पर तेज़ी से फैलता है. इसके साथ ही यह वायरस अलग-अलग चीज़ों की सतह पर कुछ घंटों से लेकर कई दिनों तक बना रह सकता है. मतलब यह कि टैक्सी वगैरा में भी सफ़र करना सुरक्षित नहीं है.

इन हालात में बेहतर यही है कि आप घर पर सुरक्षित रहें.

हेल्पलाइन

भारत सरकार की तरफ़ से यात्रा के बारे में जारी किए गए सुझावों की जानकारी के लिए, https://www.mygov.in/covid-19 देखें. अगर आपको किसी तरह की मदद या जानकारी की ज़रूरत है, तो नेशनल हेल्पलाइन + 91-11-23978046 पर कॉल करें. आप +91 9013151515 पर एक मैसेज भेजकर भारत सरकार के बनाए हुए WhatsApp चैटबोट का इस्तेमाल कर सकते हैं या अपने सवालों का जवाब जानने के लिए  ncov2019@ gmail.com पर मेल भी कर सकते हैं.

 

संदर्भ:

  1. Joint ICAO-WHO Statement on COVID-19 [Internet]. www.who.int. 2020 [cited 2020 Mar 22]. Available from: https://www.who.int/news-room/articles-detail/joint-icao-who-statement-on-covid-19 
  2. COVID-19 [Internet]. MyGov.in. Government of India; 2020 [cited 2020 Mar 22]. Available from: https://www.mygov.in/covid-19
  3. Canada PHA of. Coronavirus disease (COVID-19): Travel advice [Internet]. Government of Canada. 2020. Available from: https://www.canada.ca/en/public-health/services/diseases/2019-novel-coronavirus-infection/latest-travel-health-advice.html
  4. CDC. Coronavirus Disease 2019 (COVID-19) [Internet]. Centers for Disease Control and Prevention. 2020. Available from: https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/travelers/travel-in-the-us.html

Loved this article? Don't forget to share it!

Disclaimer: The information provided in this article is for patient awareness only. This has been written by qualified experts and scientifically validated by them. Wellthy or it’s partners/subsidiaries shall not be responsible for the content provided by these experts. This article is not a replacement for a doctor’s advice. Please always check with your doctor before trying anything suggested on this article/website.